Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 in Hindi | बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2023

Team Gyanplanet.com

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 (BBBP) को देश के प्रधान मंत्री (Prime Minister)  नरेंद्र मोदी द्वारा 22 जनवरी, 2015 को पानीपत, हरियाणा में लॉन्च किया गया। BBBP गिरते बाल लिंग अनुपात (Child Sex Ratio) और जीवन-चक्र की निरंतरता में महिला सशक्तिकरण (Women Empowerment) से संबंधित मुद्दों को संबोधित करता है। यह महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और मानव संसाधन विकास मंत्रालयों (Ministries of Women and Child Development, Health & Family Welfare and Human Resource Development) का एक त्रि-मंत्रालयी (tri-ministerial) प्रयास है।

प्रधानमंत्री (PM) नरेंद्र मोदी के मुताबिक, हमारा मंत्र (Mantra) होना चाहिए: ‘बेटा बेटी, एक समान’

चलो आइए हम साथ मिलकर बेटी के जन्म का जश्न मनाएं। हमें अपनी बेटियों पर भी उतना ही गर्व होना चाहिए। PM नरेंद्र मोदी अपने ‘गोद लिए गांव- जयापुर‘ के नागरिकों से – ‘मैं आपसे इस अवसर का जश्न मनाने के लिए अपनी बेटी के जन्म पर पांच पौधे लगाने का आग्रह करता हूं।’

हमारे टेलीग्राम ग्रुप में शामिल होने के लिए यहां क्लिक करेंClick Here

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 क्या है?

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना (BBBP) का उद्देश्य देश में महिलाओं की स्थिति में सुधार लाने के लिए बालिकाओं के लिंगानुपात (child sex ratio)  में गिरावट को रोकना और महिला सशक्तिकरण (Women Empowerment) को बढ़ावा देना है।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 Overview

योजना का नाम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना
विभाग का नाम:महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ,स्वास्थ्य मंत्रालय, परिवार कल्याण मंत्रालय एवं मानव संसाधन विकास मंत्रालय का सयुंक्त अभियान
किसने शुरू की थी PM नरेंद्र मोदी
कब शुरू हुई थी 22 Jan 2015
Official वेबसाइट Beti Bachao Beti Padhao Yojana
Purpose बेटियों के लैंगिक भेदभाव को समाप्त करना व शिक्षा को सुनिश्चित कराना व समाज में भागीदारी सुनिश्चित कराना आदि।

भारत की 2001 की जनगणना (census) के अनुसार, 0-6 आयु वर्ग के बच्चों का लिंगानुपात (sex ratio of children) प्रति 1000 लड़कों पर 927 लड़कियों का था जो 2011 में घटकर 1,000 लड़कों पर केवल 918 लड़कियां रह गया। 2012 में संबंध यूनिसेफ (UNICEF) के आंकड़ों के अनुसार, इसमें भारत 195 देशों में 41 वें स्थान पर था। 

बेटी बचाओ बेटी पढाओ के लॉन्च के बाद से लगभग सभी राज्यों में बहु-क्षेत्रीय जिला कार्य योजनाएं (Multi-Sectoral District Action Plans) लागू की जा रही हैं। जिला स्तरीय कर्मचारियों एवं फ्रंटलाइन वर्करों की क्षमता को और अधिक बढ़ाने के लिए क्षमता निर्माण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं तथा उन्हें प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप में शामिल होने के लिए यहां क्लिक करेंClick Here

एनडीए सरकार बालिकाओं के प्रति समाज के रवैये में परिवर्तनकारी बदलाव लाने की कोशिश कर रही है। प्रधान मंत्री मोदी ने अपने मन की बात (Mann ki baat) में हरियाणा के बीनापुर के एक सरपंच की इच्छा का आह्वान किया जिन्होंने ‘बेटी के साथ सेल्फी‘ (selfie with daughter) शुरू की। प्रधान मंत्री ने लोगों से बेटियों के साथ उनकी तस्वीर लगाने का भी अनुरोध किया और यह जल्द ही दुनिया भर में हिट हो गई। भारत और दुनिया के कई देशों के लोग अपनी बेटियों के साथ आंखों पर पट्टी बांधे हुए थे और उन सभी के लिए गर्व का अवसर बन गया।

पंजाब के मनसा जिले (Mansa district of Punjab) ने एक पहल शुरू की है जिसमें वे जिले के लोगों को अपनी लड़कियों को शिक्षित करने के लिए प्रेरित करते हैं। मनसा प्रशासन ‘उड़ान-सपने दी दुनिया दे रूबरू‘ (उडान – ‘एक दिन के लिए अपने सपने को जिएं‘ ) योजना के तहत छठी से बारहवीं कक्षा की छात्राओं से प्रस्ताव आमंत्रित करता है। इन छात्राओं को एक दिन उस प्रोफेशनल के साथ बिताने का अवसर मिलता है जो वे अपने जीवन में बनना चाहती हैं जैसे – डॉक्टर, पुलिस अधिकारी, इंजीनियर, आईएएस और पीपीएस अधिकारी और अन्य।

यह निम्नलिखित मंत्रालयों का त्रि-मंत्रालयी (Tri-Ministerial) प्रयास है:

* महिला बाल विकास मंत्रालय (Women and Child Development) 

* स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग (Health and Family Welfare)

* मानव संसाधन विकास मंत्रालय (Human Resource Development)

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के उद्देश्य और लक्ष्य | The objectives and aims of Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना (Beti Bachao Beti Padhao Yojana) का उद्देश्य रूढ़िवादी और पुराने विचारों के परिणाम स्वरूप लड़कियों के हितों के उल्लंघन पर रोक लगाने के लिए बेटी के जन्म का जश्न मनाना है। यह योजना लड़कियों की शिक्षा और कल्याण (Girls Education and Welfare) के लिए निम्न उद्देश्यों के लिए शुरू की गई थी जो इस प्रकार है –

* बालिकाओं के भेदभाव को रोकने तथा लिंग निर्धारण परीक्षण के अभ्यास के लिए

* लड़कियों के अस्तित्व व सुरक्षा को सुनिश्चित करना

* शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में लड़कियों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना की मुख्य विशेषताएं: The key features of Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 की दो प्रमुख विशेषताएं हैं :- 

1. जन अभियान (Mass campaign)

इस अभियान का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि बालिकाओं का जन्म और पालन-पोषण उनके सशक्तिकरण की ओर ले जावे ताकि वह बिना किसी भेदभाव के देश की एक गौरवान्वित नागरिक बन सके। अभियान तत्काल प्रभाव से राष्ट्रीय, राज्य और जिला स्तर के साथ 100 जिलों में सामुदायिक स्तर पर शुरू किया गया है।

2. सीएसआर के साथ 100 चयनित जिलों में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कवर करने के लिए बहुक्षेत्रीय कार्रवाई (एक पायलट योजना के रूप में):- 

मानव संसाधन विकास मंत्रालय और स्वास्थ्य और परिवार मामलों के मंत्रालय ने लड़कियों की शिक्षा के अस्तित्व और सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए संयुक्त कदम उठाए हैं। इनमें जिला कलेक्टरों/उपायुक्तों (डीसी) के स्तर पर सभी विभागों द्वारा बीबीबीपी के प्रबंधन के लिए बहुक्षेत्रीय, संयुक्त प्रयास शामिल हैं।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 के अंतर्गत शुरू की गयी योजनाएं निम्नलिखित है- 

इस योजना के तहत सरकार का मुख्य उदेश्य समाज में लड़कियों के प्रति जागरूकता उजागर करना है। लेकिन अप्रत्यक्ष रूप से अन्य योजनाओ को Beti Bachao Beti Padhao Yojana के तहत लाया गया है जिनमें बेटियों के भविष्य को लेकर कुछ सेविंग के लिए प्रेरित हो। सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ  योजना को ध्यान में रखते हुए, कहीं योजनाए लायी गई जिनमें यदि माता पिता बेटी के भविष्य के लिए कुछ सेविंग करते है, तो उन्हें अच्छा ‘रिटर्न’ (समय अवधि पूरी होने पर मिलने वाला पैसा) मिलें। कुछ प्रमुख योजनाएँ निम्न है:- 

  • सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana)
  • लाड़ली लक्ष्मी योजना ( Ladli Laxmi Yojana)
  • बालिका समृद्धि योजना ( Balika Samriddhi Yojana)
  • धनलक्ष्मी योजना (Dhanlaxmi Yojana)

इन सभी योजनाओं में से Sukanya samriddhi yojana (SSY) को सरकार द्वारा BBBP योजना को ध्यान में रखते हुए लाया गया है। इस योजना के तहत 0 से 10 वर्ष तक की लड़कीयो का इसमें खाता खुलवाया जाता है। इन योजनाओ के तहत खाता खुलवाने के लिए नजदीक मे स्थित बैंक व पोस्ट ऑफिस में जाकर खुलवा सकते है। जिनके लिए आपको (माता पिता के) निम्न दस्तावेजों (documents) की आवश्यकता होगी।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 हेतू आवश्यक दस्तावेज: Important Documents:-

* आधार कार्ड 

* पेन कार्ड की प्रति

* नवीनतम फोटोग्राफ

* एक्टिव मोबाइल नंबर

* मतदाता पहचान पत्र

* सरकारी विभाग द्वारा जारी ID

* आवेदक का जन्म प्रमाण पत्र

Beti bachao beti padhao Yojana 2023 हेतु आवेदन कैसे करें?

यदि आप बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के लिए आवेदन करना चाहते है, तो आप नीचे दिए गए प्रोसेस को फॉलो करें और इसका लाभ उठाइए:

* सबसे पहले भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट (https://wcd.nic.in/bbbp-schemes) पर जाएँ।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 2 1 1
Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023

* होम पेज पर आने के बाद आप वूमेन एम्पावरमेंट स्कीम (women empowerment scheme) विकल्प पर क्लिक करें।

* वूमेन एम्पावरमेंट स्कीम के विकल्प पर क्लिक करने के बाद सामने एक नया पेज आ जायेगा।

* पेज पर beti bachao beti padhao 2023 से संबधित सभी नए अभियान व योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी मिल जाएगी।

* आपको यहां सम्पूर्ण विज्ञापन मिल जायेगा। विज्ञापन हिंदी व इंग्लिश दोनों भाषाओँ में उपलब्ध करवाया गया है। आप इसका सम्पूर्ण अध्यन करके योजना का लाभ उठा सकते है।

FAQs

Q1. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना कब शुरू की गयी थी?

Ans. Beti bachao beti padhao (BBBP) की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 22 जनवरी 2015 को की गयी थी।

Q.2 बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुआत किसने की?

Ans. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Q3. सरकार द्वारा बेटियों के भविष्य के लिए कौन कौनसी प्रमुख योजनाओ की शुरुआत की गई है?

Ans. सुकन्या समृद्धि योजना (sukanya samriddhi yojana)

लाड़ली लक्ष्मी योजना ( Ladli Laxmi Yojana)

बालिका समृद्धि योजना ( Balika samriddhi yojana)

धनलक्ष्मी योजना (Dhanlaxmi Yojana)

Q4. बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना किस वर्ष शुरू की गई थी?

Ans. 2015

Q5. Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 (BBBP) के मुख्य उद्देश्य क्या हैं?

Ans. लिंग-पक्षपाती लिंग-चयनात्मक उन्मूलन की रोकथाम।

बालिकाओं के अस्तित्व और सुरक्षा को सुनिश्चित करना।

बालिकाओं की शिक्षा और भागीदारी सुनिश्चित करना।

Q6. बेटी बचाओ बेटी पढाओ (बीबीबीपी) योजना के लिए नोडल मंत्रालय कौन सा है?

Ans. महिला एवं बाल विकास मंत्रालय

Q7. बेटी बचाओ बेटी पढाओ की थीम पर कौन सा उत्सव आयोजित किया गया था?

Ans. कला उत्सव (kala utsav)

Q8. ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ’ का शुभारंभ किस राज्य में किया गया है?

Ans. हरयाणा

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 (BBBP), Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023 (BBBP), Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023, Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023, Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2023

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *